Hindi Sharabi Shayari

Browse a collection of latest Hindi sharabi shayari.

महखाना नहीं मिला तो क्यों तरस रहा है ए शराबी,
जाम तुझे हम पीला देंगे !!
बस फरक इतना होगा कि
कांच के पैमाने के बदले हुस्न की निगाहें होंगी !!

Hindi in English Letters !!

Mehkhaana nahi milaa to kyon taras raha hai e sharaabi,
Jaam tujhe hum peela denge
Bus farak itna hoga ki
Kaanch ke paimaane ke badle husn ki nigaahein hongi !!

{ 0 comments }

Kabhi Kawal To Kabhi Gulaab Lagti Hai

March 2, 2015 Hindi Sharabi Shayari

कभी कवल तो कभी गुलाब लगती है, तू हमेशा बहारों का ख्वाब लगती है, बिन पिए ही […]

Read More →

Mujhe Tanhaa Dekh Kehte Hain Log

February 16, 2015 Hindi Sharabi Shayari

मुझे तन्हां देख कहते हैं लोग, ज़रा महफ़िल में भी जिया करो, खुद पैमाना लेकर बैठा देते […]

Read More →

Main Tod Letaa Agar Tu Gulaab Hoti

January 24, 2015 Hindi Sharabi Shayari

मैं तोड़ लेता अगर तू गुलाब होती, मैं जवाब बनता अगर तू सवाल होती, सब जानते हैं […]

Read More →

Aaj Is Sharaab Ko Khatam Kar Dein

January 20, 2015 Hindi Sharabi Shayari

शराब शरीर को खत्म करती है, शराब समाज को खत्म करती है, आओ आज इस शराब को […]

Read More →

Meri Kabr Par Mat Gulaab Lekar Aana

June 14, 2013 Hindi Sharabi Shayari

मेरी कब्र पर मत गुलाब लेकर आना, ना ही हाथों में चिराग लेकर आना, प्यासा हूँ मैं […]

Read More →

Shaam Thi Wo Kaatil

February 19, 2013 Hindi Sharabi Shayari

शाम थी वो कातिल जो उसकी याद ले आई, थे हम तनहा, हमें महखाने ले आई, साकी […]

Read More →

Tum Hasin Ho Gulaab Jaisi Ho…

February 2, 2013 Hindi Sharabi Shayari

तुम हसीन हो गुलाब जैसी हो, बहुत नाज़ुक हो ख्वाब जैसी हो, दिल की धड़कन में आग […]

Read More →

Har Taraf Khamoshi ka Saaya Hai…

January 31, 2013 Hindi Sharabi Shayari

हर तरह ख़ामोशी का साया है, ज़िन्दगी में प्यार किसने पाया है? हम यादों में झूमते हैं […]

Read More →

Main Aaj Fir Pee Kar Aaya Hoon…

January 24, 2013 Hindi Sharabi Shayari

मत बताओ मुझे तन्हाई क्या होती है, कि मैं आज फिर पी कर आया हूँ, मत बताओ […]

Read More →

Har Baat Ka Koi Jawaab Nahi Hota

January 22, 2013 Hindi Sharabi Shayari

हर बात का कोई जवाब नहीं होता, हर इश्क का नाम खराब नहीं होता, यूँ तो झूम […]

Read More →

Pee hai sharaab humne

January 21, 2013 Hindi Sharabi Shayari

पी है शराब हर गली की दूकान से, दोस्ती सी हो गयी है शराब के जाम से, […]

Read More →

Peete the sharaab hum

January 19, 2013 Hindi Sharabi Shayari

पीते थे शराब हम, उन्होंने छुड़ादी अपनी कसम देकर, महफ़िल में गए थे हम, यारों ने पिला […]

Read More →

Yaaron ki Mehfil Aisi Jamaayi Jaati Hai

January 17, 2013 Hindi Sharabi Shayari

यारों की महफ़िल ऐसी जमाई जाती है, खोलने से पहले बोतल हिलाई जाती है, फिर जोर से […]

Read More →

Nasha Hum Karte Hain

January 16, 2013 Hindi Sharabi Shayari

नशा हम करते हैं, इलज़ाम शराब को दिया जाता है, मगर गलती शराब की नहीं उनकी है, […]

Read More →