टेक्नोलॉजी

डिजिटल मार्केटिंग क्या है और इसके फ़ायदे क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग क्या है

डिजिटल मार्केटिंग क्या है और इसके फ़ायदे. दोस्तों, आज की दुनिया में बहोत कम लोग ऐसे होंगे जिन्हें Google, YouTube, Yahoo, Bing जैसे Search Engines और Facebook, Instagram, Twitter, Whats app, आदि. Social Media माध्यमों के बारे में पता नहीं होगा या वे इनका इस्तेमाल नहीं करते. और इन्हीं माध्यमों की तुफान लोकप्रियता ने Digital Marketing की परिभाषा को जन्म दिया है. तो भैया, यह डिजिटल मार्केटिंग क्या है और कैसे हमारे Business के लिए फायदेमंद है चलिए जानेंगे.

डिजिटल मार्केटिंग क्या है और इसकी शुरआत कैसे हुई?

डिजिटल मार्केटिंग को समझने के लिए हमें पहले, “Marketing” इस शब्द के उद्देश्य को समझना होगा. Marketing का उद्देश्य एक Business के उत्पाद यानी Products and Services को, उनके प्रचार यानी Advertisement के द्वारा जरूरतमंद Customers तक पहुंचाना है.

सालों से हम अलग अलग माध्यमों से की जाने वाली ऐसी कई सारी Advertisements देखते और सुनते आ रहे है. इन माध्यमों में TV, Newspaper, Radio, Bill Boards, Hoardings, आदि. कई सारे माध्यम है जिनसे Business अपने उत्पादों की जानकारी लोगों तक पहुंचाते है.

लेकिन इन सब माध्यमों में एक दिक्कत यह है कि, यह सारे Traditional Marketing Channels ऐसे कई जरूरतमंद Customers तक नहीं पहुंच पाते जिनको उन उत्पादों की सच में जरूरत है. और उन लोगों तक पहुंचाते है जिनको उन उत्पादों की जरूरत भी नहीं होती.

आज दुनिया में ज्यादातर लोग हर दिन Digital Content का इस्तेमाल करते है जैसे 20 वीं सदी से पहले हम हर दिन की खबरें Physical Paper पर प्रिंट किये गये अखबारों से पढ़ते थे.

जब से हमें Computer, Laptop से लेकर Smart Phones, Tablets और ऐसे कई अन्य उपकरणों का Access या पहोंच मिली है, हम इन उपकरणों से Online Activities में खो गये है. और इस प्रकार पुराने संसाधनों जैसे कागज़ से बने अख़बार या किताबें हमारे Daily Life से बाहर होकर Digital Industry में हमारे कदम जमाये जा रहे है.

इस मानवी विकास के दौर की शुरुआत वैसे तो 19 वीं सदी में ही हो चुकी थी जब Computer की ख़ोज हुई. उसके बाद 20 वीं सदी में Internet और Email की ख़ोज हुई. वह एक पड़ाव था जब हम एक Electronic माध्यम के जरिये एक दुसरे से बात कर पाएं.

उसके बाद हम इंसानों ने कभी पीछे मुड़कर देखा नहीं और एक के बाद एक Mobile, SMS जैसे नए नए Digital Electronic माध्यमों की खोज होती रही. दुनिया के हर कोने में ऐसे कई सारे Electronic उपकरणों का उपयोग रोजाना जिंदगी में तेजी से बढ़ने लगा. Yahoo, Google, MSN (Bing) जैसे अद्भुत Search Engines की खोज हुई.

फिर नया दौर आया जिसमें Google की बेहतरीन पेशकश YouTube, Whats App, Facebook Messenger, Instagram, Twitter जैसे Mobile Applications के आविष्कार होते गए.

इस क्रांति ने दुनिया भर के लोगों को एक दूसरे से Communication के माध्यम से जोड़ने का अहम कार्य किया. आज हम इन अविष्कारों को इस Digital दुनिया का अहम हिस्सा बना चुके है. आज देखते ही देखते यह सारे Platforms, Digital Marketing के इस दौर के मज़बूत कंधे बन चुके है.

डिजिटल मार्केटिंग आज कम समय में ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद Business को Customers और Customers को Business से जोडने का काम करती है, जो Business Marketing का महत्वपूर्ण हिस्सा है.

डिजिटल मार्केटिंग की व्याख्या  |  Definition of Digital Marketing:

Digital Marketing उन सारे Electronic उपकरणों द्वारा Internet की मदद से की जाने वाली Products और Services के प्रचार की प्रक्रिया है जिनमें, Google Search, email Marketing, Social Media Advertising जैसी Tactics या सामग्रियों का उपयोग किया जाता है.

डिजिटल मार्केटिंग की जरूरत  |  Need of Digital Marketing:

डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसी संकल्पना है जिसने हर एक इंसान की ज़िंदगी में कई महत्वपूर्ण बदलाव किये है जिन्हें हम हर दिन महसूस कर सकते है. चाहे वह एक Business हो या किसी एक व्यक्ति की Personal Life, हर जगह दुनिया में ज्यादातर इंसान Digital Marketing का लाभ उठा रहे है.

जैसे आज अनगिनत लोग Social Networks जैसे Facebook, Instagram, Twitter, Whats App, आदि. Platforms से एक दूसरे से निजी कारणों से जुड़े हुए तो है ही, लेकिन यही संसाधन निजी बातों से ऊपर उठकर दुनिया के असंख्य Businesses को उनके Customers और Customers को उनके जरूरतमंद Products and Services सम्बंधी Businesses से जोड़ने का काम आसान बना रहे है. उसी तरह आज दुनिया भर में Digital Marketing, Online Money Making का अहम साधन भी बन गया है.

इन महत्वपूर्ण बातों में डिजिटल मार्केटिंग का कार्य और योगदान इस लिए भी आसान हो जाता है क्योंकि Digital Marketing वह Flexibility, Business और Customer दोनों को देता है. जैसे कि कोई Customer या व्यक्ति Social Media का अपना जो चाहिए वह काम करते हुए उसके जरूरत की चीजों के Ads या विज्ञापन देख सकता है.

और वही Business, डिजिटल मार्केटिंग की सहायता से ऐसे जरूरतमंद  Customers तक किसी भी Internet के माध्यम से जैसे Social Media या कोई और Website से आसानी से पहुंच सकता है और अपने उत्पादों का विवरण बता सकता है.

और यही बात Digital Marketing को Traditional Marketing से बहोत Easy and Affordable बना देती है. क्योंकि Traditional Marketing से जरूरतमंद Customer को Business और Business को जरूरतमंद Customer तक पहुंचने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता था.

चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो या पर्यटन का, हर क्षेत्र का हर जरूरतमंद Business और Customer एक दूसरे से चुटकी भर समय में पहुंचकर जानकारी हो या Products and Services का लेन देन, वह भी पैसों के व्यवहार की सहायता के साथ कर पा रहा है.

इतनी सारी असंख्य सुविधाएं बिना किसी रुकावट के Customer और Business, या जानकारी चाहनेवाला और जानकारी देनेवाला सब के लिए Digital Marketing आज किसी अविष्कार से कम नहीं है.

डिजिटल मार्केटिंग का विस्तार  |  Scope of Digital Marketing:

डिजिटल मार्केटिंग अपने आप में एक Magical दुनिया है जिसके कई छोटे Divisions है जो अलग अलग दिशाओं में काम करते है और एक Business के Profit में अपना योगदान देते है. इसे Data Driven Marketing भी कहते है जो विभिन्न Products and Services के परिचय और विज्ञापन का काम अलग अलग Internet Platforms पर करती है.

इस डिजिटल मार्केटिंग का जादु आज दुनिया के हर देश में भौगोलिक और सांस्कृतिक मुद्दों को पीछे छोड़कर पुरी दुनिया पर छाया हुआ है. वर्ष 2016 में अकेले Digital Marketing Industry में 2 लाख के करीब Job Opportunities और तुरंत ही वर्ष 2017 में लगभग 10 लाख Job Opportunities का आंकड़ा छु कर दुनिया को चौका दिया है.

हालांकि वर्ष 2018 और बाद के Exact आंकड़े जुटाना भी मुश्किल बन गया है क्योंकि इतनी बड़ी मात्रा में Digital Marketing Industry में Job Opportunities उभरकर आई है. आज के दौर में डिजिटल मार्केटिंग एक सबसे अधिक नए Job और Business Opportunities बनाकर इसके शीर्ष पर खड़ी है.

Digital Marketing का ऐसे ऊभरकर आने का सबसे महत्वपूर्ण कारण यह है की यह बहोत Flexible Working Culture मुहय्या कराती है. जैसे इस काम में आपको ना किसी एक स्थान पर होना जरूरी है, ना Office की जरूरत है, ना Production Unit की. बस एक Laptop/Mobile/Tablet जैसा Device और उसे Internet का Connection, आप का काम हो जाता है. Easy Access और बढ़िया Customer Engagement, Digital Marketing को Television Marketing जैसे Traditional Marketing Channels से अलग और खास बना देती है.

डिजिटल मार्केटिंग क्या है

Digital Marketing के प्रकार  |  Types / Techniques / Strategies of Digital Marketing:
1. Search Engine Optimization (SEO) :

जब आप किसी भी Search Engine जैसे Google में किसी भी बात की जानकारी लेने के लिए उस Topic के Keywords को Search करते हैं तो, आप को नीचे Search Results दिखाई देते है. वह Search Results को Google में सबसे ऊपर दिखाई देने के लिए जो Technical Set Up या प्रक्रिया की जरूरत होती है उसीका नाम है Search Engine Optimization (SEO).

SEO का सबसे महत्वपूर्ण काम यही है कि यह आप को बिना पैसे के मुफ्त में आप के Business के लिए जरूरतमंद Customers को आप की Website पर Search Result के द्वारा ले आता है जब वह Customers आप के Business से Related Products और Services को Internet पर Search करते हैं.

अगर आप को SEO प्रणाली का सबसे अधिक लाभ उठाना हो तो आप को इस की कुछ बारीकियों को समझ कर आप की Website को आप के Business क्षेत्र के अन्य Websites से ज्यादा SEO Friendly बनाना होगा. ताकी जब भी कोई Customer आप के Business से Related कोई भी चीज को इंटरनेट पे सर्च करें तो आप की Website सबसे पहले 10 Results में दिखे. SEO की बारीकियों में जो चीजें आती है वह है,

(A) On Page SEO :

जब भी आप आपकी Website पर आपके Business या Products and Services की जानकारी देते है, आप को इस बात का ध्यान रखना होता है कि आप के Customers सबसे ज्यादा कौन से Keywords का इस्तेमाल करते हैं जब वे Internet पर Search करते हैं. वह Keywords आपकी Website में कितनी बार आता है, आपका Content कितना अच्छा और साफ लिखा हुआ है, यह सारी बातें On Page SEO का हिस्सा हैं.

(B) Off Page SEO :

किसी भी Website को Search Engine में सबसे ऊपर Rank करने के लिए उस Website का बनाव बहोत मायने रखता है. जैसे कि, उस Website की Security पर अपने कितना ध्यान दिया है, उस Website का Content आपने किस बात को लेकर लिखा है, Images या Videos को कितना Optimize किया है जिससे Search Engine आसानी से उसे Load कर सकें, आदि बातें Off Page SEO का हिस्सा हैं.

2. Content Marketing :

इस डिजिटल मार्केटिंग की Movie का सबसे Famous Dialogue है “Content is the King..!!”. तो भैया, जब तक आप ने अपनी Website पर लिखा Content आपके Customers के Search Keywords के हिसाब से नहीं लिखा. या आपके Competitors की Websites के Content से Best and Detailed नहीं लिखा तब तक आप को फ़ायदा नहीं मिलेगा. Videos, Blog Posts, Info-graphics, eBooks, आदि कुछ Content Marketing के अहम पहलु है जो आप के Content को सबसे अलग और क़ीमती बनाने में मददगार साबित होते हैं.

अगर हम Content की बात करें तो Blogs के बाद आज,  YouTube , Content Marketing का दुसरा सबसे बड़ा हिस्सा बन गया है. काफी सारे Content Marketers आज Video Content बनाकर Brand Awareness और Lead Generation को बढाने पर जोर दे रहे है. कुछ Reports के मुताबिक, Mobile Technology की वजह से Video Content आज का सबसे बड़ा User Engagement Tool बन चुका है. वैसे आज भी Blog लिखकर अपनी Website पर अपने Business Expertise को Articles के रूप में दुनिया तक पहुंचा पाना उतना ही महत्वपूर्ण है क्योंकि सारी बातें आप Videos से बता नही सकते और किसी एक Video में Customer को जो बात Exact चाहिए उसे ढूंढ पाना मुश्किल हो जाता है.

3. Pay-Per-Click Advertising :

Pay-Per-Click (PPC) Advertising यह एक बहोत बड़ी संज्ञा है जिससे आप किसी भी दूसरी Website चाहे वह Google Search Engine पर हो या Facebook जैसी Social Website हो या कोई और, उन Websites पर आप के Website को Advertise कर सकते है और अपने Products and Services को Promote कर सकते है. बस आप को उस के लिए पैसे देने पड़ते हैं. वह पैसे का Calculation, Customers के Clicks पर आधारित होता है कि आप की Advertisement कितनी बार Click की गई. जिसे Paid Search Advertising भी कहा जाता है.

4. Social Media Advertising :

SEO के जैसे ही आप Facebook, Instagram, Twitter, आदि. Websites पर आप के Business की Advertising कर सकते है. लेकिन इस बात के लिए ज्यादा समय की जरूरत होती है, और आप इसकी सहायता से कुछ समय बाद आपके Customers की Engagement को बढ़ाकर अपने Business को बढ़ावा दे सकते है.

डिजिटल मार्केटिंग क्या है

5. Conversion Rate Optimization (CRO) :

CRO यह एक ऐसी Technique है जिसके उपयोग से आप आपके Customers को बड़े तौर पर अपने Business के साथ मिला सकते है जिसका इस्तेमाल आज काफी Business Organizations कर रहे है. इनमें Lead Generation, Chat Support, Call Assistance, आदि. बातों का अहम योगदान है.

6. Email Marketing :

Email Marketing यह एक डिजिटल मार्केटिंग का सबसे पुराना प्रकार है जो आज भी कुछ खास Events, Discount Offers, New Product Launch, Product और Services के Support में ज्यादा पैमाने पर उपयोग में आता है. यह आज भी Customer Engagement का महत्वपूर्ण हिस्सा है.

7. Mobile Marketing :

Mobile Devices ने आज के समय हमारी ज़िंदगी में कई अहम अच्छे बदलाव लाये है. आज हम Mobile के बिना खुद को सोच ही नही पाते. इसी की बदौलत Marketers को उनके Customers के साथ जुड़ने के लिए Mobile पर उनसे संवाद रखने की अलग अलग Techniques को इस्तेमाल करना बहोत जरूरी हो चुका है. जैसे सारे Videos हो, Blog Articles हो, Facebook जैसे Social Media के Applications हो, eMails हो, SMS हो, Calls हो सब सब ज्यादा से ज्यादा Mobile पर ही इस्तेमाल होने लगा है. और इन सब को मिलाकर Mobile Marketing, Digital Marketing का सबसे प्यारा माध्यम बना हुआ है.

8. Affiliate Marketing :

यह एक कम समय में ज्यादा Popular होने वाला डिजिटल मार्केटिंग का मज़ेदार हिस्सा है. Affiliate Marketing में आप किसी और के Products and Services को अपने Website पर Promote कर सकते है. जैसे के Amazon, Flipkart, जैसी कई अन्य Websites के Affiliate Partner बन कर आप उनके Products and Services को अपनी Website पर Promote कर सकते है और अगर कोई Customer आपकी Website पर दिए उन Ads पर Click करके खरीददारी करेगा तो आप को वह Websites कुछ Commission मुहय्या कराती है.

B2C / B2B बड़े छोटे उत्पादों के सब Businesses के लिए Digital Marketing फायदेमंद है?

Yes Surely..! Digital Marketing की शुरूआत से लेकर आज तक इस अनोखे अविष्कार ने कई बड़े छोटे Businesses को नये आयाम तक पहुंचाया है. डिजिटल मार्केटिंग ने खिलौनों की छोटी दुकानों से लेकर करोडों की Luxury Cars की बड़ी से बड़ी हर कंपनी को अपना Business बढ़ाने में मदद की है. डिजिटल मार्केटिंग की मदद से आज आप जिसे और जहाँ चाहो उस एक या लाखों Customers को Target कर सकते हो और उन तक बड़े हौसले से अपनी बात पहुंचा सकते हो. और यही बात आज Digital Marketing को CROWN of MARKETING बनाती है.

लेक़िन यह बात हमें ध्यान में रखनी होगी कि B2C और B2B के छोटे बड़े Businesses को Digital Marketing का उपयोग करने की अलग अलग Techniques को समझना होगा तभी वह फायदेमंद रहेगी.

B2C :

दोस्तों, B2C यानी Business-to-Customer. उदाहरण के तौर पर देखें तो, अगर आप के शहर में आप की एक Customized Printed T-shirt की छोटीसी दुकान या Business है. जहाँ से आप T-shirt ऐसे एक एक Customer को Retail में बेचते हैं या बेचने पर जोर देते हैं, जो खुद के लिए खरीदते है या अपने किसी घरवाले या रिश्तेदार के लिए. और यही आपके Target Customers है, ना की ऐसे Business जो आपसे खरीद कर और आगे किसी को बेचकर मुनाफा कमाना चाहता हो. यहाँ आप के Target Customers का कोई Business नहीं है. यानी (आप) Business -to- Customer (खरीददार) कर रहे है.

ऐसे Business के लिए आप अपना काम कम समय में Facebook जैसी Social Marketing की Geographic Targeting tool से Paid या Free Marketing करके सारे शहर या Target Customers तक अपने Business को Promote कर सकते है.

जिससे कम समय और कम से कम पैसे में, आप अपने Target Customers तक पहुंच भी सकते है और अपने Social Media Platform के माध्यम से समय समय पर उनको अपने Creativity की Photos और Videos शेयर करके Communicate भी कर सकते हैं. यहाँ ना तो आप को किसी और पर depend रहना पड़ेगा, ना Sales Team रखनी होगी, ना Newspaper में Ad देना पड़ेगा,ना Pamphlets प्रिंट करके बांटने पड़ेंगे. बस आपको Social Media Marketing का ज्ञान लेना होगा जो बहोत ही आसान है.

B2B :

B2B यानी Business-to-Business. अब यहां, उदाहरण के तौर पर, अगर आप का Customized Printed T-shirt बनाने के लिए लगने वाले Raw Materials जैसे Plain T-shirts, Printing Machine, Printing ink, laces, आदि. वस्तुओं को बनाने और बेचने का Business हो. जिसके Target Customers ऐसे Business हो जो यह सामग्री लेकर अपना Customized Printed T-shirt बनाने का काम करते हो.

ऐसे उद्योगों तक पहुंचने के लिए आप को  लगभग कोई एक राज्य या पूरे देश में Sales Team रखनी पड़ेगी लेकिन यह Sales Team तभी अच्छेसे काम कर पायेगी जब उनको Proper Target Customers की अच्छी Lead मिले.

अब यहाँ Social Media से आपका काम नहीं होगा. लेकिन, जब भी कोई Google में T-shirt Printing Machine के लिए Search करेगा, उन्हें Search Results में आप सबसे पहले दिखें यह आपकी इच्छा जरूर होगी. और हां, आप उसके लिए कुछ ज्यादा पैसे भी खर्च करना चाहेंगे.

यहां, आपको Content Marketing पर ज्यादा जोर देना पड़ेगा, आपको उन Website Visitors को अच्छेसे Engage करना पड़ेगा, Email Marketing और Conversion Rate Optimization (CRO) techniques का अच्छेसे इस्तेमाल करना होगा ताकी आप की Sales Team उन Deals को Close करे.

जी, हां..! अगर आप डिजिटल मार्केटिंग की Techniques का अच्छेसे उपयोग करेंगें तो आप को सफलता जरूर मिलेगी. बस आप को आप के Business के लिए कौनसी Digital Marketing Strategy अच्छी रहेगी ईसपर थोड़ा Study और अमल करना पड़ेगा.

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *