Saari Zindagi Mein Ek Pal To Aisa Ho

सारी ज़िन्दगी में एक पल तो ऐसा हो,
जो सिर्फ तुम्हारा और मेरा हो,
जिसमे कोई तीसरा न हो,
हम दूर तक एक दुसरे से बातें करते चलते जाएँ
और उन बातों कोई सुनने वाला कोई और ना हो
बस मैं और तुम हों
यूँही बैठे बैठे किसी छोटी सी बात पर
हम बेतहाशा हँस पड़े
हँसते-हँसते आँखों से आँसूं निकल पड़ें
और उन आंसुओं को साफ़ करने वाला
कोई और ना हो
बस मैं और तुम हों
काश साड़ी ज़िन्दगी में
एक पल तो ऐसा हो
जो सिर्फ तुम्हारा और मेरा हो…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *